जी पी पारसिक बैंक की कर्नाटक में पहली शाखा

महाराष्ट्र स्थित बहु-राज्यीय शेड्यूल्ड बैंक जी पी पारसिक सहकारी बैंक ने हाल ही में कर्नाटक राज्य में अपने कारोबार का विस्तार किया है। कर्नाटक में विस्तार के साथ बैंक तीन राज्यों में कार्यरत हो गया है।

बैंक ने राज्य के निपानी और बेलगावी में अपनी 84वीं और 85वीं शाखाओं का शुभारंभ किया। बैंक के पदाधिकारियों को उम्मीद है कि अगले वित्तीय वर्ष तक ये शाखाएं 10 करोड़ रुपये से अधिक का कारोबार करेंगी।

बैंक के अध्यक्ष रंजीत गोपीनाथ पाटिल और उपाध्यक्ष नारायण गजानन गावंद ने शाखाओं का उद्घाटन किया। इस अवसर पर बैंक के सीईओ सदानंद कृष्ण नायक, बोर्ड के सदस्य समेत कई गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे।

अपने उद्बोधन में यूसीबी के अध्यक्ष रंजीत गोपीनाथ पाटिल ने कहा कि, “हमें यह बताते हुए गर्व हो रहा है कि हमने कर्नाटक में अपने कारोबार का विस्तार किया है और राज्य के लोगों की जरूरतों को पूरा करने में आगे आए हैं।

“ये शाखाएं आधुनिक सुविधाओं से लैस है जिनमें एटीएम, मोबाइल बैंकिंग, इंटरनेट बैंकिंग, लॉकर सुविधा आदि शामिल हैं। बैंक हमेशा से अपने ग्राहकों को उच्च सुविधाएं देने के लिए समर्पित है”, पाटिल ने दावा किया।

इस बीच बैंक ने 2022 तक 101 शाखाएं और 10,000 करोड़ का व्यवसाय करने की योजना बनाई  है।

इस संवाददाता से बातचीत में बैंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सदानंद कृष्ण नायक ने कहा कि “हमने कर्नाटक की मार्केट में प्रवेश किया है। कर्नाटक में शाखाएं खोलने के साथ हम तीन राज्यों में कार्यरत हो गए हैं।

“अब हमारा तीन राज्यों में 85 शाखाओं का नेटवर्क हो गया है। हमें भारतीय रिजर्व बैंक से चालू वित्तीय वर्ष में 10 नई शाखाएं खोलने का लाइसेंस मिला है। यह लक्ष्य जून से पहले हासिल किए जाने की संभावना है”, नायक ने दावा किया।

पाठकों को याद होगा कि हाल ही में बैंक ने महाराष्ट्र के धर्मपठ में 82 वीं शाखा और नागपुर के लोकमत चौक पर 83 वीं शाखा का उद्घाटन किया था।

जीपी पारसिक बैंक की स्थापना 21 मई 1972 को हुई थी। इसका कारोबार लगभग 5,700 करोड़ का है और बैंक ने पिछले वित्त वर्ष 47 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ अर्जित किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook

Twitter