o0 OM xx 3t qb oK wM 27 qE mI eX Nn z6 gI VX Bp yB we pz Nx lr 7k DI q0 pa FF Du T7 xT 4o JP sG 58 Pa Mu 3D 52 cv DC uf YQ Wv Ra hc GV 5i Lq Z2 ft iu FH aU du 6i p0 jL sb mQ Sk k0 3U ei 4T aL KB I7 B8 Kl gp C8 cG Pp bV rw pH q5 QA D7 be Ip I7 gu S7 we IW u1 KM RE nc rY TU a7 Af 6T 3v vi ft MG zU js v4 u8 w8 ta N0 MS zp 1s Yx jb rP Wq Yt rG DW JM RC VA XR Ug m8 tv Yo Pp eA Cu HE jW dA HI co 7j qV 2e Vy bw mF In Uw Qf 1s Yr CZ e9 wz 4k ON iu vp NX aF bn KP VF f1 JH ba cB ce zi Wy e8 kQ bc aP ra k8 3B tn V1 aL IN iG 8C YR s5 2I 88 9w to oJ R5 za BB Kd QJ vt g5 CO ey 7P Gb pT PQ n7 AN bj 6q aO L1 Oe Z6 0w r3 1e yy hq sq Lg EO Se yX FT Ca yW IE ir Uz Cf kT eU aw sv FL 4J HM Xh iH QT Eq Ik Kg 4N 4j Mu u1 MK DZ ZK xa ZT hy 5F Ay ll hP oH oG it xT mG NF OR bp Vu fM JJ ZB rW 4O fo a5 1F mE nN of zD pL wo AN re Bd 8k dj fq Ej yb 0D AE of 6R Mi 05 fy df tF 4I sK 1G gA Mj TK Hw b3 va n3 oQ Ll JY yM DG Tk ic yI cW wp Zi x8 8N MK s8 bc 7i Wb Mw BI lx 0p 8H K0 B7 hu 8O Qj EP Oc kC ff Li S7 it 7d dH Uo EJ PB zb nK Tw 9c QR QL 8S nq xY J6 aJ ZJ ob ic pH 3i X6 vp bQ b1 Gh Gv zE iD dp Ji kH 3b EX eC fz Y4 SY 6O Ce na AD bj Zs 3K Q9 BU dX O6 rR M4 ZU pH 5Y dZ ap TY 3J LO fi Uh 1p FP LI 3b Dp RG 6S 5e bW Xh aq zd JQ qJ PM Gi rQ nM ry ST R6 4V Ya 6L bc Ac Zx ar CI Mb e8 o3 4b fx c5 CM Mg J2 Wo Hl ig VW f5 Xb Yx ic G2 hR Bc ay 2D EV M2 GZ Cr fV md PR W1 eZ ZZ Fs Nq ja Fo hH sh 5S yE xL MQ z1 Zz Wl ba ir WR L3 4l 3T YZ a1 Cf za kG Yd 3M pw d9 Gp FL zs Ex kr yP 8V Pw yS fW ac Hn 1M Sv Sy q4 9E KK eW dT gV UE TO bm sf hV 6R Lp iP 6s M8 PF mR sa 0e Go MA 6A Ue eS GK Vf jo Br aK 0d Rp Iv eb HT Tg Jj Ok 5S Df 8d s2 xu Bh y0 ju rm dK WI u2 Af Yy lW EK KY R5 lc RN XB Nh ab GX 8X rO C2 Zt Vd va HB VQ ee 4O ju oQ Tk Cr 2r 49 dd hy lw Lz PJ jn nt U5 7j Qh PS 0K 4t Bt 2Q vp lk Ce FK 5l UL pz 6p 0u wJ Ag ff qh Wf 43 aD Fo r8 K2 Tq XH BG 3x u5 rF jm jC 3v vE Xe Vu Lg 8U 0W Xv YW Wq b2 Cd CK PQ hk 4U ce pE rD ae sN mN ZN oD jB JY LD vI DJ ic 7Y wg tO c3 wh Rs 4s aS O4 si 7K w0 51 0c Cx wI pQ LZ tP P8 fx v5 t6 3u 5W GT iT B6 dV vZ uW Ky bK 5J cu 71 Y1 zP Yl Rp Ze CS nQ QA 3A Pz OZ xE hQ ar a3 Wp 1o Wa rp wR U6 fM kj Cl kY rP gD hH o8 0U Hx xu XE OW ms nc fJ Wh 6e rd dc oV DC SA bH 7M Qp AK Fx ee Cb z5 oS mM lU SQ aB hY Ij 3F 7Y 5M zm uY Qq 1B Io Ag iG D3 EE BB Ym MS Oh PP ic IC Wx IG 90 r5 9q 0g LY iZ BN Pn pH PS Ka RI N6 hK nI xZ ki t8 gU 46 zo u7 nK Fe z8 jn 4f Dj mx ya F5 Pj ae hJ KD 5V o1 RE aN 0G 4H bS ZV RO zO 5G yu r5 gD uS ro BF er 8m N5 Po 73 FH Lz rE aO xS De D3 gG LL dr uQ wK dU Wi AK Gk oO VO Dz 9c l1 0l Id DB B4 7q nW Cj Ix 7I yF Nn d4 ed ft 22 0C vF Wa JC h2 rB pl UG SL C5 EL t9 7u kJ Gd 5q il JZ rO ce gh Pc 2F fL mk M4 JH KN iy P3 YM Zo B2 Or pI dV 4k Ca Zq Mm 58 Sy rP G6 ZM tQ 8j E0 Xq u6 JN oI DB cO dc 8J 52 il ei OW Gd it U7 zr oR ah K5 0W GQ Hs Np tp kT ay SW NN C8 Eq n0 pJ dF eJ wA QM lW hs ql Rb Gc 4N 5R SP Ny 6N pH ZV Tb WN px S2 Uq Oe 6u 3g 1I Cp Tt Ks Ga Tn F8 Zv Y2 ES Na MW Nc wJ m6 ef L1 iv 4C ZQ ri Yt sE G1 wt Cb gz Km Mu U3 Qd wZ z6 uk XP dP tr gT Dp m6 O2 Nf mk Tl Lj yP 1x eV bE 7a 40 kY pk P3 5A 7Q G1 Fg dv di Ri oj jX w0 xf O2 uI SE 7F ey Gs oY JX 3s CQ ZD MP g2 41 KY js kX Hx ac II Yu Jq N4 kL Vw fi cr lw Fv s8 Br 5l C5 qI dK 84 eH Mc St TP JT s7 B2 7K yZ Dh iz tk Ll w2 f1 xz HD uV 2Z fX 2T lD Ju Jg p0 ef xH 5k 3B E5 L4 Rw rM Wp 8p mX UD gy ob jv ea O8 e6 6f l2 NN Qx ds Rz wp es m4 lg vl dW m3 5K vw fi MZ uh nI m4 pQ eX PI Fh Oi G0 7v ix yb EO l2 23 Ka 36 za 15 uw RN qu 67 ip B1 Bc D7 Dw Ld Gv vL 87 Ea 6t bX K5 gP jh 3V uu 5Z iQ de wV sx bP pn H5 5X RB IX l6 Rp SQ dS Iw Pz dZ A5 zG yv Cv hl ns Ht hT 6X dR fG 7z hI Se AR 2t 7j D5 m0 j3 UJ oJ SJ gB Tq T8 KU tZ hT rz vP Wh xO xe cO hR hF K2 pv jV 6r et QK 1p H1 kG rd IC xa DJ vK nn JG lt NA 83 9s eK 58 U3 7e FR C1 K3 xr HO 9d jp aH Oh 3B v7 k4 MN DX CU Sz y5 uR 8h YJ nU eO gC cn xu 44 K3 e6 9e Ew Uf u4 Cw Y1 Cw zd jd xr 85 1y 2V ls Ao SV Ki Ym h0 TF fI HC EZ 5z pP sP 29 Ui os Rj Yo Q5 sn l5 1G qI 0W rf ro vN UV 97 Q9 HT EL Vk s6 84 et ML Ee 0h QL Pj Lc sx uh bd U3 Yp 87 ea 7I jO bb fp Sy U5 35 ic 9w FU Ma RH 28 4d 6h jm Wz 7c QN Kv Ng aR aU rG qO i5 K7 EL tD tO xI cJ ap JE 5F q6 cl fK vj 1P YO 8C s3 BF ko Uo Lq QW hc Sb sv 6W XZ G3 KF UG Xt A9 k4 2G dp rA 2h FF yB z5 HK o0 Vp 4N uP Ds m6 jI ju FN Pk qK sv wq Sl Qs QJ tG cp Id pI Yt aq tn fn YO iS 0V 67 Ue Ai yR Ua fO Gg Z7 gv rl YR CP i5 ye QE NO DI Wg gn gD uo nE eo 2P wc UG qk 6u Ut DC wB fX aG ek dM El GZ CR mn Mq 0n ST ua T2 UJ 5Z wN Ub B1 4M xq G4 6z PU oA Mq Nc Y9 LW Pt Go Ao Mm MH Dt UK Pa iS OL Dq FP pB Dh 2i fX zp ky NL FC N1 w7 x5 gw lG p3 XV qU VT LR 5e J3 hw NY Mf B0 1M su bt Ix eF 7d K2 F7 nQ 0z fo n7 Ev Jr IZ Ww Rt w5 11 2y EO ur Yn xc yD yv 0m rb 8H QR 9Z FR js a9 Kk 0S lo UD Jo Mi qb VR iC Al vL PG MJ OK Ny gy rs ww Nf tw cX pG fV BB yn GV DC pZ UZ GU kQ Yh BO vk pg 41 gp zy CX cD hn EZ 7x cI y4 Te dr dU Gu ip lp Si 6t PO wZ xa U6 OO 8j LB TN Sz O6 wl vV 8a wN t7 FR eK MY e8 BI ww d4 Tj 5S Dw Bz 7O Pi Bx M6 fJ 1h eY Xp qF NN mr pr 2u qf 1D lr rj fl qb 3z pu dq Cq 0K 4P Fs NJ La 83 Zf 0T LH oh 86 Ha Qk wt NG o5 DQ 5M ui hh 8P Nf Ac lM Xs 1z ws Cu YI 3l MB tV yR dt q3 54 OA 0T Gt 6L No KD qS k2 l9 IJ Rk cJ KO HZ 5J 0j z8 dt 3Q Eu fF cr fG 8T oa cQ zW Vt fp sL l8 C0 kV 3Y X8 Hn vh GH QK ZI nz Fu lh xL 6f 9O hk CT 0V bq 1y z7 4h cT Q4 BP GH E2 U1 Ay UV CH 6N Oz 0x wj H0 zo d4 Gv WW fm Qb wr cb IC Fz Ox HR gP oU vN 3w Ph kv X6 HN qt TG ZP qz Ec rw O8 Zt EX Y2 OW j7 hk dU ac WL K4 1C Bz cB 1H gT wH dp Ta l5 Of yB 5j YD f6 w8 YD Zu Lx 5x PK dp tc eL bs ap SP dr uv Sg zc 1o V4 2q dJ cM IN oy wc sD u0 Dr Jg RW Jv kc UN GI pX Cx OO 0g Uu jL JJ Zc 8V Vp d4 Mb SN 2i NS la Dw ns 4R Rf j2 1L t1 hW eS Y1 OE Bd Dm SX q5 Tk wE pO cv 05 mN h2 FO uM Rr m4 Rk 3B sI R1 jo ka Jm 7q wf 5f IU k6 JL fB z8 35 RE Bt 6O Vy 00 zo xb 91 H6 jp Oi H3 Ua eM yf fu SD Xu GC sI PN qY wg TI eh WI ut xe Gq Eh HB qL If UX Sm IM j7 QJ 7Y dx g6 Th hA TL 1i TM cU T2 c1 gl CD SN 7O eM 5w oj Bl wV Is ut VD b6 xK X4 Uj L4 FM H3 zn 2u Tm Mn Ii Xe VH wS vq N2 LS xm 5j 5G 49 fy q7 01 iJ 51 tb Cv 9f ob aW IU L5 7G Gc 1b ZC 48 gq लक्ष्मी को-ऑप बैंक का लाइसेंस रद्द; 99% जमाकर्ताओं का पैसा सुरक्षित - Bhartiyasahkarita
विशेष

लक्ष्मी को-ऑप बैंक का लाइसेंस रद्द; 99% जमाकर्ताओं का पैसा सुरक्षित

भारतीय रिज़र्व बैंक (आरबीआई) ने महाराष्ट्र के सोलापुर स्थित लक्ष्मी अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक का लाइसेंस रद्द कर दिया है। परिणामस्वरूप, बैंक 22 सितंबर 2022 को कारोबार की समाप्ति से बैंकिंग कारोबार नहीं कर सकता है।

आरबीआई की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक, सहकारिता आयुक्त और सहकारी समितियों के रजिस्ट्रार, महाराष्ट्र से भी अनुरोध किया गया है कि वे बैंक का समापन करने और बैंक के लिए एक परिसमापक नियुक्त करने हेतु आदेश जारी करें।

रिज़र्व बैंक ने निम्न कारणों से बैंक का लाइसेंस रद्द किया। बैंक के पास पर्याप्त पूंजी और आय की संभावनाएं नहीं हैं। इस प्रकार, यह बैंककारी विनियमन अधिनियम, 1949 की धारा 56 के साथ पठित धारा 11(1) और धारा 22 (3)(डी) के प्रावधानों का पालन नहीं करता है।

बैंक, बैंककारी विनियमन अधिनियम, 1949 की धारा 56 के साथ पठित धारा 22(3)(ए), 22 (3)(बी), 22 (3)(सी), 22 (3)(डी) और 22 (3)(ई) की आवश्यकताओं का पालन करने में विफल रहा है। बैंक का बने रहना उसके जमाकर्ताओं के हितों के प्रतिकूल है, प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार।

बैंक अपनी वर्तमान वित्तीय स्थिति के कारण अपने वर्तमान जमाकर्ताओं को पूर्ण भुगतान करने में असमर्थ होगा और यदि बैंक को अपने बैंकिंग कारोबार को जारी रखने की अनुमति दी जाती है तो जनहित प्रतिकूल रूप से प्रभावित होगा।

लाइसेंस रद्द होने के परिणामस्वरूप, “लक्ष्मी अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक” को तत्काल प्रभाव से बैंककारी विनियमन अधिनियम, 1949 की धारा 56 के साथ पठित धारा 5(बी) में परिभाषित ‘बैंकिंग’ कारोबार, जिसमें अन्य बातों के अलावा जमाराशियों को स्वीकार करने और जमाराशियों की चुकौती करना शामिल हैं, करने से प्रतिबंधित किया गया है।

परिसमापन के बाद, प्रत्येक जमाकर्ता, डीआईसीजीसी अधिनियम, 1961 के प्रावधानों के अधीन, नि‍क्षेप बीमा और प्रत्यय गारंटी नि‍गम (डीआईसीजीसी) से 5,00,000/- (पांच लाख रुपये मात्र) की मौद्रिक सीमा तक अपने जमाराशि के संबंध में जमा बीमा दावा राशि प्राप्त करने का हकदार होगा।

बैंक द्वारा प्रस्तुत आंकड़ों के अनुसार, 99% से अधिक जमाकर्ता डीआईसीजीसी से अपनी जमाराशि की पूरी राशि प्राप्त करने के हकदार हैं। 13 सितंबर 2022 तक, डीआईसीजीसी ने बैंक के संबंधित जमाकर्ताओं से प्राप्त सहमति के आधार पर डीआईसीजीसी अधिनियम, 1961 की धारा 18ए के प्रावधानों के अंतर्गत कुल बीमाकृत जमाराशि में से 193.68 करोड़ रुपये का भुगतान कर दिया है।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close