ताजा खबरें

इफको ने इंडिया पोस्ट से मिलाया हाथ; देश में शत-प्रतिशत विस्तार

भारत के कस्बों और गांवों को कवर करने के उद्देश्य से उर्वरक सहकारी संस्था इफको ने इंडिया पोस्ट के साथ हाथ मिलाया है। इसका उद्देश्य ग्राहकों के घरों तक इफको उत्पाद की डिलीवरी करना है।

इस बात की घोषणा करते हुए इफको के प्रबंध निदेशक ने एक ट्वीट किया और लिखा कि “मुझे इस बात की बेहद खुशी है कि इफको बाजार ने इंडिया पोस्ट के साथ करार किया है ताकि हम अपने उत्पादों की डिलीवरी ग्राहकों के घरों तक कर सके।

केंद्र सरकार द्वारा कुछ साल पहले किये गये एक अध्ययन के मुताबिक, भारत में 1,54,965 डाकघरों का एक विशाल नेटवर्क है, जिसका अधिक हिस्सा ग्रामीण क्षेत्रों में फैला हुआ है। डाकघरों की संख्या में आजादी के बाद से सात गुना वृद्धि देखी गई है। इसका विस्तार मुख्य रूप से ग्रामीण क्षेत्रों में हुआ है।

इफको के अधिकारी ने कहा कि इसके साथ इफको पूरे भारत में इफको बाजार खोलेगा क्योंकि आज भी निजी कोरियर ग्रामीण आबादी की सेवा करने से कतराते हैं और भारतीय डाकघर ग्रामीणों तक सामान पहुंचाने का एकमात्र साधन है।

ऐसा देखा गया है कि कई मंत्री अपने क्षेत्रों में इफको बाजार का उद्घाटन करने के लिए उत्सुक रहते हैं। फिलहाल देश के विभिन्न हिस्सों में फैले इफको बाजार की संख्या 500 के आंकड़े को पार कर गई है।

वर्तमान में, इफको बाजार किसानों को विभिन्न उत्पाद जैसे बीज, उर्वरक, जैव उर्वरक, कीटनाशक, जैव उत्तेजक, पशु चारा आदि मुहैया करा रहे है। इन केंद्रों के माध्यम से मृदा परीक्षण की सुविधा भी प्रदान की जाती है।

इफको बाजार अन्य उत्पाद और सेवाएं भी प्रदान करता है, जैसे स्वास्थ्य जांच, माइक्रो बैंकिंग, सोलर एलईडी लाइट, आदि।

इफको बाजार ने ग्रामीण भारत के उत्थान और महिला सशक्तीकरण को बढ़ावा देने के लिए एक फ्रैंचाइज़ी मॉडल और किसान मित्र योजना का अनावरण किया है। इन मॉडलों में महिला उद्यमियों को प्रोत्साहित किया गया है, इफको वेबसाइट ने दावा किया।

पाठकों को याद होगा कि कई केंद्रीय मंत्री और राज्य मंत्री इफको बाजार को प्रोत्साहित करते रहते हैं क्योंकि किसानों के साथ-साथ वे इसमें अपना भी राजनीतिक लाभ देखते हैं। हाल ही में झारखंड के भाजपा सांसद निशाकांत दुबे ने गोड्डा जिले में इफको बाजार का उद्घाटन किया था।

इससे पहले, इफको बाजार के उद्घाटन में केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से लेकर पुरुषोत्तम रुपाला समेत कई मंत्रियों ने हिस्सा लिया है।इसलिये कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि इफको बाजार एक व्यापक मंच हासिल करने में कामायब हुआ है, इफको के एक अधिकारी ने कहा।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close