Leave a reply

मापूसा अर्बन कोआपरेटिव बैंक संकट में



एक न्यूज  रिपोर्ट के मुताबिक, मापूसा अर्बन कोआपरेटिव की बोर्ड ने मंगलवार को एक बैठक के दौरान सर्वसम्मति से अपना इस्तीफा दे दिया। इस्तीफे की प्रतियां केंद्रीय रजिस्ट्रार, गोवा रजिस्ट्रार, सरकार और भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) को भेज दी गई है।    बता दे कि जुलाई 2015  में भारतीय रिजर्व बैंक ने बैंक पर प्रतिबंध […]

आगे पढ़े
Leave a reply

बिना कारण नाम परिवर्तन नहीं: केंद्रीय रजिस्ट्रार

उस्मानाबाद स्थित बहु-राज्य सहकारी समिति, भूगोल मल्टी स्टेट अर्बन कॉपरेटिव क्रेडिट सोसायटी को पिछले हफ्ते केंद्रीय रजिस्ट्रार के कार्यालय से अपने संशोधन को अनुमोदित कराने में सफलता हाथ नहीं लगी क्योंकि सोसायटी ने नाम बदलने के पीछे कोई वजह नहीं बताई। मल्टी स्टेट कॉपरेटिव ऐक्ट 2002 की धारा 11 के उपधारा 9 के तहत सोसायटी […]

आगे पढ़े
Leave a reply

मल्टी-स्टेट सहकारी समिति के विकास में रुकावट

सेंट्रल रजिस्ट्रार के दफ्तर से नोटिस मिलने के बाद सोलापूर स्थित मौली मल्टी स्टेट कॉपरेटिव क्रेडिट सोसाइटी के अध्यक्ष और उनके सहयोगी पिछले हफ्ते हांफते-हांफते दिल्ली में सेंट्रल रजिस्ट्रार से मुलाकात करने के लिए पहुंचे। उनके आने की वजह मंत्रालय से गया वो नोटिस था जो उन्हें बिना अनुमति नई शाखाएं खोलने हेतु जारी किया गया था। पाठकों को याद होगा […]

आगे पढ़े

सहकारिता में काले धन पर होगी कार्रवाई : मंत्री

केंद्रीय कृषि मंत्री मोहन भाई कुंदरिया ने नई दिल्ली में सहकारी सप्ताह के उद्घाटन समारोह के मौके पर कहा कि बहुराज्य सहकारी समितियों में हुए भ्रष्टाचार के मामलों में उच्च स्तरीय बैठकों का आयोजन किया जा रहा है। मोइली समिति द्वारा हाल ही में जारी रिपोर्ट के अनुसार बहुराज्य सहकारी समितियों में से कुछ समितियां […]

आगे पढ़े

केंद्रीय रजिस्ट्रार के रूप में भूटानी की वापसी

कृषि एवं सहकारिता मंत्रालय के संयुक्त सचिव आशीष भूटानी ने एक बार फिर 1 मई से केंद्रीय रजिस्ट्रार के रूप में कार्यभार संभाला है। गौरतलब है कि 30 अप्रैल को राज सिंह रिटायर हुये थे और उनकी जगह पर भूटानी को नियुक्त किया गया है। श्री भूटानी पहले केंद्रीय पंजीयक के रूप में अपनी सेवा […]

आगे पढ़े

एनसीयुआई का संशोधन के लिए मंत्रियों के साथ विचारावेश सत्र

भारतीय राष्ट्रीय सहकारी संघ ने 97वें संविधान संशोधन अधिनियम पर एक विचारावेश सत्र का आयोजन किया जो सहकारिता को एक मौलिक अधिकार का दर्जा देता है। यह एक अखिल भारतीय समूह था जिसमें सहकारी समितियों के रजिस्ट्रार, सहकारी समितियों के सचिव और कुछ राज्यों जैसे बिहार, महाराष्ट्र, गोवा और तमिलनाडु के सहकारिता मंत्रियों ने भाग लिया। […]

आगे पढ़े

इफको फाउंडेशन: सहकारी समितियों के प्रति सरकार के रवैये को लेकर अवस्थी का जोरदार हमला

सहकारी समितियों के प्रति सरकार के रवैये को लेकर इफको के प्रबंध निदेशक यू.एस.अवस्थी ने जोरदार हमला किया। उन्होंने कहा कि द्वितीय पंचवर्षीय योजना में इसकी शुरूआत के बाद से सरकारों ने सहकारी समितियों को नजरअंदाज किया है। उन्होंने याद दिलाया कि चार अन्य स्तंभ की तरह सहकारिता भी एक मजबूत स्तंभ है जिस पर […]

आगे पढ़े

बहु राज्य सहकारी सोसायटी का पंजीकरण

संदीप कुलकर्णी, विजय देशपांडे पंढरपुर प्रिय महोदय, मैं सखारी पतसंस्था को लेकर कुछ परेशान हूँ, अब यह बहु राज्य क्रेडिट सोसायटी में परिवर्तित हो गया है। क्या आप एक बहु राज्य क्रेडिट सहकारी समिति के पंजीकरण के बारे में कुछ जानकारी भेज सकते हैं?

आगे पढ़े

नैफेड घोटाले में रिकवरी आदेश भेजा

केन्द्रीय पंजीयक श्री आर.के. तिवारी ने  नैफेड के अध्यक्ष और कई निर्देशकों के विरुद्ध 4000 हजार करोड़ रुपये के टाई – अप घोटाले में वसूली आदेश भेज कर लगभग एक धमाके कर दिया है. कुछ वर्तमान और पूर्व निदेशकों के नाम जिसे वसूली नोटिस भेजा गया है, में वर्तमान अध्यक्ष श्री बिजेन्दर सिंह, सी.व्ही. होलकर- वर्तमान निदेशक, श्री निवास गौडा- ​​पूर्व निदेशक, नगर दल्ली- […]

आगे पढ़े

NCUI अध्यक्ष द्वारा आकाशवाणी पर IYC 2012 की शुरूआत

ऑल इंडिया रेडियो पर अंतरराष्ट्रीय सहकारी वर्ष 2012 का शुभारंभ करते हुए राष्ट्रीय सहकारी संघ के अध्यक्ष प्रोफेसर चंद्र पाल सिंह यादव और भारत सरकार के केन्द्रीय पंजीयक श्री आर.के. तिवारी ने संयुक्त रूप से भारत जैसे देश के लिए सहकारी आंदोलन के महत्व पर बल दिया.सरकार के पास भी कई कल्याणकारी योजनाएं है और देश के दूरदराज के भाग तक इन योजनाओं को पहुंचाने में सहकारी समितियां वरदान साबित हो सकती […]

आगे पढ़े

Facebook

Twitter