मामाजी सीएनबीसी अवार्ड से नवाजे गए

0
21

अपने अध्यक्ष ज्योतिंद्रभाई मेहता को प्रतिष्ठित सीएनबीसी पुरस्कार से नवाजे जाने की खबर सुनते ही सहकार भारती से जुड़े लोगों में उत्साह का माहौल बना हुआ है। मेहता ने भारतीय सहकारिता से बातचीत में कहा कि “मैं अभिभूत हूं”।

सीएनबीसी ग्रुप ने सहकार भारती के अध्यक्ष ज्योतिंद्रभाई मेहता को सहकारी क्षेत्र में योगदान के लिए “लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार” प्रदान किया था। गुजरात के मुख्यमंत्री विजयभाई रुपानी राजकोट में आयोजित पुरस्कार समारोह में मुख्य अतिथि थे।

राजकोट नागरिक सहकारी बैंक में प्रमुख व्यक्तियों के खातों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भी बचत खाता है, जिसके मेहता पूर्व में अध्यक्ष थे। सहकार भारती के अध्यक्ष के साथ-साथ मेहता नफकॉब के भी अध्यक्ष हैं।

इस अवसर पर अपने भाषण में मेहता ने कहा कि “सहकारी एक अनूठा व्यवसाय मॉडल, है और मुझे गर्व है कि मैं सहकारी क्षेत्र के माध्यम से गरीबों के उत्थान के लिए काम करने में सक्षम हूं। कई सहकारी समितियां जैसे अमूल, इफको सराहनीय कार्य कर रही है।

यह कार्यक्रम विशेष रूप से सौराष्ट्र के उद्योगपतियों को प्रोत्साहित करने के लिए आयोजित किया गया था, जिन्होंने ऑटोमोबाइल, इंजीनियरिंग और अन्य क्षेत्रों में उत्कृष्ट योगदान दिया है।

इस अवसर पर 700 से अधिक बड़े उद्योगपतियों को आमंत्रित किया गया था।

विजय भाई रूपानी ने बालाजी वेफर्स प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक कनुभाई विरानी को भी सौर रत्न पुरस्कार से नवाजा था।

कश्मीर से कन्या कुमारी तक सहकार भारती के सदस्यों ने सोशल मीडिया पर सीएनबीसी पुरस्कार की खबर का बड़े पैमाने पर स्वागत किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here