Leave a reply

एजीएम: फिशकोफॉड के घाटे में आई भारी कमी



भारत सरकार से सेवा शुल्क न मिलने के बावजूद भी मत्स्य सहकारी समितियों की शीर्ष संस्था फिशकोफॉड अपने घाटे को काफी हद तक कम करने में सफल हुई है। वित्त वर्ष 2017-18 में सहकारी संस्था ने करीब 90 लाख तक अपने घाटे को कम किया है जो कि वित्त वर्ष 2016-17 में लगभग 1.2 करोड़ […]

आगे पढ़े
Leave a reply

एनसीसीई ने मत्स्य सहकारी समितियों को पेशेवर बनाने पर दिया जोर

एनसीयूआई की प्रशिक्षण विंग एनसीसीई ने हाल ही में नई दिल्ली में मत्स्य सहकारी समितियों के अध्यक्ष और निदेशकों के लिए मछली पालन के आधुनिकीकरण और व्यावसायीकरण पर एक प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया। इस ट्रेनिंग प्रोग्राम में तेलंगाना, कर्नाटक और असम से प्रतिभागियों ने भाग लिया। इस कार्यक्रम का उद्देश्य सहकारी समितियों के अध्यक्ष और […]

आगे पढ़े
Leave a reply

फिशकोफॉड राज्यों में एक्वा केंद्र स्थापित करेगी

मत्स्य सहकारी संस्थाओं की शीर्ष संस्था फिशकोफॉड ने हैदराबाद स्थित नेशनल फिशरीज डेवलपमेंट बोर्ड के साथ असम, झारखंड और ओडिशा में 16 एक्वा केंद्र स्थापित करने के लिए एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया है। अगर इस एमओयू से सफलता प्राप्त होती है तो फिशकोफॉड एक्वा केंद्र देश के अन्य भागों में भी स्थापित करेगी। करीब छह कंपनियों को […]

आगे पढ़े
Leave a reply

केरल बैंक: बालू ने किया समर्थन, मराठे ने विरोध

अगर सहकार भारती केरल में जिला सहकारी बैंकों के विलय के विचार का पुरजोर विरोध कर रही है तो आईसीए-एपी के क्षेत्रीय निदेशक बालू अय्यर ने इस विचार का समर्थन करते हुए कहा कि इससे केरल के सहकारी क्षेत्र को बल मिलेगा। इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के मुताबिक, “अंतर्राष्ट्रीय सहकारी एलायंस के क्षेत्रीय निदेशक […]

आगे पढ़े
Leave a reply

केंद्रीय बजट: फिशकोफॉड ने जेटली को दिया धन्यवाद

देश की मत्स्य सहकारी संस्थाओं की शीर्ष संस्था फिशकोफॉड के प्रबंध निदेशक बी.के.मिश्रा ने पिछले हफ्ते केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा संसद में प्रस्तुत केंद्रीय बजट 2018-19 की सराहना की। “मैं खुश हूं कि फिशकोफॉड की मांग मछली पालन को किसान कार्ड सुविधाएं प्रदान करने को स्वीकार किया गया है”, मिश्रा ने भारतीय सहकारिता […]

आगे पढ़े
Leave a reply

एनसीयूआई: एनसीसीई का नीली क्रांति में योगदान

देश की सहकारी संस्थाओं की शीर्ष संस्था एनसीयूआई की शिक्षा विंग एनसीसीई ने हाल ही में मत्स्य सहकारी समितियों के अध्यक्ष और निदेशकों के लिए ‘नेतृत्व विकास कार्यक्रम’ का आयोजन किया था। इस कार्यक्रम में देश के विभिन्न राज्यों से करीब 50 से ज्यादा प्रतिभागियों ने भाग लिया और इसका आयोजन दिल्ली स्थित एनसीयूआई मुख्यालय […]

आगे पढ़े
Leave a reply

नीली क्रांति में फिशकोफॉड सहभागी: सरकार

मत्स्य सहकारी संस्थाओं की शीर्ष संस्था फिशकोफॉड ने पिछले सप्ताह “मत्स्य सहकारी संस्थाओं को मजबूत बनाने” के विषय पर दिल्ली के सरीता विहार स्थित अपने मुख्यालय में एक संगोष्ठी का आयोजन किया था, जहां यह साफ हुआ कि सरकार नीली क्रांति के लक्ष्यों को प्राप्त करने में फिशकोफॉड को सहभागी मानती है। फिशकोफॉड ने मंत्रालय […]

आगे पढ़े
Leave a reply

बिहार: मंत्री ने किया फिशकोफॉड काउंटर का उद्घाटन

पटना में मत्स्य सहकारी संस्थाओं की शीर्ष संस्था फिशकोफॉड के जिंदा मछली के काउंटर का उद्घाटन करते हुए मत्स्य पालन मंत्री अवदेश कुमार सिंह ने शीर्ष संस्था को बधाई दी। उन्होंने कहा कि इस काउंटर के माध्यम से राज्य के लोगों को उचित दर पर गुणवत्ता पूर्ण मछली मिलेगी और मंत्री ने फिशकोफॉड को राज्य […]

आगे पढ़े

फिशकोफॉड एमडी हर चुनौती के लिए तैयार

बदलते परिदृश्य में जब सरकार मछली के उत्पादन को दोगुना करने पर बल दे रही है वहीं मत्स्य सहकारी संस्था फिशकोफॉड के प्रबंध निदेशक बी.के.मिश्रा अपने संगठन को व्यापार संगठन के रूप में उभरते हुए देख रहे हैं। बुनियादी ढांचे और प्रसंस्करण संयंत्रों पर सरकार की 50 प्रतिशत सब्सिडी की सराहना करते हुए मिश्रा ने […]

आगे पढ़े
Leave a reply

सजावटी मछली: फिशकोफॉड योजना से एक बार फिर बाहर

कृषि मंत्रालय ने विशेष अभियान के माध्यम से देश के सजावटी मत्स्य पालन क्षेत्र को विस्तार देने की दिशा में एक योजना बनाई है, जिस पर कुल खर्च 61.89 करोड़ रुपये होगा और एक बार फिर फिशकोफॉड को इस योजना से बाहर रखा गया। इस परियोजना में मत्स्य सहकारी समितियों की शीर्ष संस्था फिस्कोफॉड का […]

आगे पढ़े

Facebook

Twitter