ताजा खबरेंविशेष

कद्दावर सहकारी नेता सुनील सिंह का एमएलसी बनना तय

सहकारी समितियों के हक के लिये लड़ाई लड़ने वाले बिहार के कद्दावर सहकारी नेता और बिस्कोमान के अध्यक्ष सुनील कुमार सिंह का बिहार विधान परिषद का सदस्य चुना जाना पूरी तरह से तय है क्योंकि राजद सुप्रीमो लालू यादव ने उन्हें नौ सीटों के लिए द्विवार्षिक चुनाव में उम्मीदवार बनाया है।

सहकार जगत में एक जाना पहचाना चेहरा, सुनील सिंह नेफेड और कृभको सहित कई राष्ट्रीय स्तर की सहकारी समितियों के  बोर्ड पर हैं। वे अक्सर दिल्ली में आयोजित सहकारी समारोहों में दिखाई देते रहते हैं और सरकार के समक्ष सहकारी समितियों की आवाज उठाने में भी सक्रिय रहते हैं।

उल्लेखनीय है कि सिंह राजद सुप्रीमो के काफी करीबी हैं।

इस प्रगति पर ‘भारतीयसहकारिता’ से बात करते हुए सिंह ने कहा, “हाँ, मैं सहकारी क्षेत्र के अधिकारों के हित में लड़ने के लिए राजनीति में प्रवेश कर रहा हूँ, जिसे सभी राजनीतिक दलों द्वारा उपेक्षित किया जा रहा है। मैंने देखा है कि सरकार में कुछ ही लोग हैं जो निचले स्तर पर रह रहे लोगों के कल्याण के लिए काम करने वाले इस क्षेत्र को समझते हैं”।

इस बीच, सिंह ने बिहार विधान परिषद में सहकारी समितियों के हित में अपनी आवाज उठाने का वादा किया। “2012 में, राष्ट्रीय जनता दल ने मुझे मंत्री पद की पेशकश की थी लेकिन मैंने कई कारणों से स्वीकार नहीं किया। यहाँ तक कि राज्यसभा चुनाव में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव और उनकी पत्नी श्रीमती राबड़ी देवी ने मेरे नाम पर अपनी मुहर लगाई थी, लेकिन अंतिम क्षण में राजनीतिक हेरफेर के कारण मैं राज्यसभा का सदस्य नहीं बन सका”, उन्होंने फोन पर इस संवाददाता से कहा।

सुनील के कई करीबी साथी इस खबर से खुश हैं। “अगर बिहार विधानसभा चुनाव में राजद और कांग्रेस सत्ता में आते हैं, तो हमें यकीन है कि बिस्कोमान के अध्यक्ष सुनील कुमार सिंह को मंत्री पद मिलेगा”, उनके एक करीबी मित्र ने कहा।

हालांकि राजद से तीन उम्मीदवार सुनील सिंह; रामबली सिंह और फारूक शेख ने बुधवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल कर दिया है।

भारत निर्वाचन आयोग की घोषणा के अनुसार, बिहार विधान परिषद की 9 सीटों के लिए नामांकन की अंतिम तिथि आज (25 जून) है। नामांकन की जांच 26 जून को की जाएगी और उम्मीदवार अपना नाम 29 जून तक वापस ले सकते हैं।

उन्होंने कहा, “बिहार विधान परिषद की 9 सीटों को भरने के लिए मतदान 6 जुलाई को सुबह 9 से शाम 4 बजे के बीच होगा एवं मतगणना शाम 5 बजे से शुरू होगी।”

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close