ताजा खबरेंविशेष

एमडी ने इफको की यात्रा पर लिखा पत्र; एआई तकनीक पर की बात

वित्तीय वर्ष शुरू होने पर हर साल की तरह इस बार भी इफको के प्रबंध निदेशक डॉ यू.एस.अवस्थी ने अपनी टीम के नाम एक संदेश पत्र लिखा। इसमें उन्होेंने न केवल 2023-24 वित्त वर्ष में इफको द्वारा हासिल उपलब्धियों पर प्रकाश डाला बल्कि भविष्य की चुनौतियों का भी सामना करने पर जोर डाला।

अपने संदेश में डॉ.अवस्थी ने शीर्ष 300 सहकारी समितियों में एक बार फिर विश्व स्तर पर नंबर 1 स्थान पाने के लिए इफको टीम की सराहना की। नवीन तकनीकों पर जोर देते हुए उन्होंने बताया की इफको ने कैसे नैनो उर्वरक और कृषि ड्रोन जैसी तकनीकों को अपनाया है। अवस्थी ने बताया की उनके प्रेरणा का प्राथमिक स्रोत प्रधानमंत्री द्वारा दिये गए मंत्र — “सहकार से समृद्धि, आत्मनिर्भर भारत और आत्मनिर्भर कृषि” ही है -संपादक।

अंश:

प्रिय मित्रों

आशा है, आप सब सपरिवार स्वस्थ और सानंद होंगे।

वित्त वर्ष 2023-24 हमारे लिए शानदार रहा है। वर्ल्ड कोआपरेटिव मॉनीटर, आईसीए की रिपोर्ट में इफको को पुनः दुनिया की शीर्ष 300 सहकारी समितियों में प्रथम स्थान मिला है। इफको भारतीय किसानों के लिए नैनो उर्वरक और कृषि ड्रोन जैसी अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी लाकर कृषि और उर्वरक क्षेत्र के विकास में सकारात्मक भूमिका निभा रहा है। प्रधानमंत्री जी के सहकार से समृद्धि, आत्मनिर्भर भारत, आत्मनिर्भर कृषि तथा किसानों की आय दोगुनी करने के संकल्प को पूरा करने के लिए इफको लगातार काम कर रहा है। मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि प्रधानमंत्री जी की प्रेरणा से माननीय केंद्रीय गृह और सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह जी ने इफको सदन, नई दिल्ली में इफको नैनो डीएपी को लॉन्च किया। उन्होंने इफको द्वारा कलोल में स्थापित भारत के पहले नैनो डीएपी संयंत्र को राष्ट्र को समर्पित करने के साथ-साथ देवघर में इफको नैनो यूरिया संयंत्र और कांडला में इफको नैनो डीएपी संयंत्र की आधारशिला रखी।

सकारात्मक दृष्टिकोण और योजनाबद्ध कार्यान्वयन के द्वारा हम वित्त वर्ष 2023-24 के दौरान इफको नैनो यूरिया तरल की लगभग 2.04 करोड़ बोतलों से अधिक और इफको नैनो डीएपी तरल की लगभग 44 लाख से अधिक बोतलों की बिक्री करने में सफल रहे। नैनो प्रौद्योगिकी के माध्यम से सटीक और सतत कृषि की दिशा में इफको द्वारा किये जा रहे नूतन प्रयासों से उर्वरक क्षेत्न में परिवर्तन की नयी लहर दिखाई दे रही है। हमने इफको नैनो यूरिया की 8.53 करोड़ बोतलों के जरिये 38.4 लाख मीट्रिक टन पारंपरिक यूरिया और 4.80 लाख मीट्रिक टन इफको नैनो डीएपी के रूप में 96 लाख डीएपी बोतलों का उत्पादन किया है। नैनो उर्वरकों को लेकर हमने अब तक 80,000 से अधिक क्षेत्र प्रदर्शन और 1500 से अधिक ग्रामीण उद्यमियों को प्रशिक्षित किया है।
इफको टीम के समर्पित और सम्मिलित प्रयासों के परिणामस्वरूप इफको संयंत्नों ने वित्त वर्ष 2023-24 के दौरान 88.95 लाख मीट्रिक टन उर्वरकों का उत्पादन किया जिसमें 48.85 लाख मीट्रिक टन यूरिया और 40.10 लाख मीट्रिक टन एनपीके / डीएपी / डब्ल्यूएसएफ और विशेष उर्वरक शामिल हैं।

देशभर में हमने कुल 112.26 लाख मीट्रिक टन उर्वरकों की सफलतापूर्वक बिक्री की है जिसमें 110.46 लाख मीट्रिक टन थोक उर्वरक, 1.80 लाख मीट्रिक टन डब्ल्यूएसएफ / विशेष उर्वरक / सागरिका ग्रेन्युल उर्वरक और 8.63 लाख लीटर सागरिका तरल शामिल है। हमने देशभर में 113.06 लाख मीट्रिक टन यूरिया / एनपी / एनपीके / डीएपी / डब्ल्यूएसएफ,
विशेष उर्वरक तथा नैनो उर्वरकों की बिक्री की है।

हमने मृदा स्वास्थ्य के लिए उपयोगी 8.37 लाख लीटर जैव उर्वरकों की बिक्री की है जो अत्यंत सराहनीय है।

मित्रो, मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि हमारा कर-पूर्व लाभ ₹3000 करोड़ से अधिक होने की आशा है। स्ट्रैटेजिक प्रबंधन समूह की विशेषज्ञता के कारण लाभप्रद प्रचालन और विदेशी उद्यमों से उच्च वित्तीय रिटर्न सुनिश्चित हुआ है।

मुझे आपसे यह साझा करते हुए खुशी हो रही है कि इफको ने इस वित्त वर्ष में अपनी पारादीप इकाई में एक नया सल्फ्यूरिक एसिड प्लांट – III चालू किया है।

कृषि क्रांति की दिशा में नयी पहल करते हुए हमने इस वर्ष कृत्तिम मेधा (एआई) आधारित कृषि ड्रोन तकनीक के क्षेत्र में कदम रखा। इस क्रम में नैनो यूरिया और नैनो डीएपी के सुचारू छिड़काव के लिए किसानों को इफको किसान ड्रोन उपलब्ध कराने की एक महत्वाकांक्षी योजना शुरू की गयी है। इफको के इस कल्याणकारी कदम से देश भर में 5000 ग्रामीण उद्यमी पैदा होंगे। प्रधानमंत्री जी की ‘नमो ड्रोन दीदी’ की पहल के अनुसरण में इफको ने 300 नमो ड्रोन दीदी को कृषि ड्रोन पायलट के रूप में ड्रोन प्रशिक्षण प्रदान करते हुए उन्हें ड्रोन वितरित किया है। ग्रामीण महिलाओं को सशक्त बनाने का यह अभियान उन्हें कृषि क्रांति के अग्रदूत के रूप में स्थापित करेगा।

वित्त वर्ष के दौरान इफको के मानव संसाधन/औद्योगिक संबंध और विधिक सेवाएं विभाग ने उत्कृष्ट कार्य प्रदर्शन किया है। एआई के उपयोग द्वारा मानवीय हस्तक्षेप को कम करते हुए भर्ती प्रक्रिया को अधिक पारदर्शी और निष्पक्ष बनाया गया है। नैनो उत्पादों के पेटेंट के पंजीकरण के लिए हमारी विधिक टीम ने सराहनीय कार्य किया है।

मुझे यह बताते हुए गर्व का अनुभव हो रहा है कि इफको परिवार ने इस वर्ष हर क्षेत्र में शानदार परिणाम प्राप्त किये हैं। इस अवसर पर मैं प्लांट्स, मार्केटिंग, फाइनेंस, कमर्शियल, सीआर, आईटी, एचआर एंड लीगल, पीआर, भाषा, साहित्य एवं संस्कृति, सेफ्टी एंड सिक्योरिटी, रियल एस्टेट और सिविल, विजिलेंस तथा अन्य सभी टीमों को उनकी कड़ी मेहनत और कुशल कार्यान्वयन के लिए बधाई देना चाहता हूं।

मैं इस अवसर पर इफको के सभी संयुक्त उपक्रमों, सहायक कंपनियों, सहयोगियों के प्रबंधन को उनके उत्कृष्ट कार्य प्रदर्शन और समर्थन के लिए हृदय से बधाई देता हूं।

मैं इफको के अध्यक्ष श्री दिलीप संघाणी, उपाध्यक्ष श्री बलवीर सिंह और इफको बोर्ड के सभी निदेशकों को उनके निरंतर सहयोग और मार्गदर्शन के लिए धन्यवाद देता हूं। प्रबंधन को निरंतर समर्थन और सहयोग देने के लिए मैं इफको कर्मचारी संघ, इफको अधिकारी संघ और इफको के सभी कर्मचारियों और अधिकारियों को भी धन्यवाद देता हूं। मैं उर्वरक विभाग, सहकारिता मंत्रालय, कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय के साथ-साथ भारतीय और अंतरराष्ट्रीय मीडिया को उनके बहुमूल्य समर्थन और सहयोग के लिए हार्दिक आभार व्यक्त करता हूं।

किसानों और सहकारों के विकास की दिशा में किये जा रहे हमारे प्रयासों में निरंतर मार्गदर्शन और सहयोग प्रदान करने के लिए मैं माननीय केंद्रीय गृह और सहकारिता मंत्नी श्री अमित शाह जी के प्रति विशेष आभार प्रकट करता हूँ। उर्वरक क्षेत्र के सशक्तिकरण की दिशा में समर्पित और प्रतिबद्ध भूमिका निभाने के लिए मैं केंद्रीय स्वास्थ्य, परिवार कल्याण तथा रसायन व उर्वरक मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया जी को साधुवाद देता हूं।

दोस्तो, आधुनिक कृषि के लिए अभिनव समाधान उपलब्ध कराने की राह में हमें अनेक चुनौतियां और बाधाएं मिलीं लेकिन अंततः हम अपने लक्ष्य पर पहुँचने में सफल रहे।

“विचारों को पंख लगा हम सपनों को यथार्थ में बदलते हैं।”

आइए हम संकल्प लें कि आशा, आकांक्षा और विश्वास के उजाले में नयी ऊर्जा और नए लक्ष्य के साथ किसानों और सहकारिताओं की सेवा हेतु प्रगति और नवाचार के पथ पर हम सतत आगे बढ़ते रहेंगे।

आप सबको नये वित्त वर्ष 2024-25 की हार्दिक शुभकामनाएं।

स्वस्थ रहें, सुरक्षित रहें।

डॉ यू.एस.अवस्थी

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close