प्रमोद का सरकार से आग्रह: अवस्थी को मिले पद्म भूषण

0
26

इफको के प्रबंध निदेशक डॉ यू.एस.अवस्थी ने उत्तराखंड की राजधानी देहरादून का दौरा किया, जहां संस्था के निदेशक प्रमोद कुमार सिंह ने अन्य सहकारी नेताओं के साथ हवाई अड्डे पर उनका स्वागत किया।

प्रमोद कुमार सिंह ने समारोह की अध्यक्षता की और भारत सरकार से डॉ यू.एस.अवस्थी को पद्म भूषण पुरस्कार देने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि इस संबंध में हम सब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक पत्र लिखेंगे।

डॉ यू.एस.अवस्थी के नेतृत्व में इफको की गतिविधियों पर नजर रखने वालों ने भी पहले अवस्थी को पद्म भूषण देने की बात कही थी। “मैं यह नहीं कहता कि इस रेस में अन्य लोग शामिल नहीं है लेकिन वास्तव में देश में कुछ ही है जो किसानों के कल्याण से बहुत चिंतित है”, प्रमोद ने इस संवाददाता को बताया।

देहरादून की यात्रा के दौरान, इफको एमडी ने वन अनुसंधान संस्थान का भी दौरा किया और संस्थान का काम देखकर काफी खुश थे और कहा कि किसानों को नीम के पेड़ की उच्च उपज जल्द से जल्द मिलेगी।

पाठकों को याद होगा कि इफको ने वन अनुसंधान संस्थान के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए थे जिसके तहत एफआरआई नीम के पेड़ों को उच्च उपज देने वाली किस्मों को विकसित करेगी जिसका 100 प्रतिशत नीम लेपित यूरिया का उत्पादन करने में उपयोग किया जाएगा।

इफको निदेशक और देहरादून के निवासी प्रमोद कुमार सिंह ने एमओयू पर हस्ताक्षर किए थे और पहली किस्त के रूप में एफआरआई को 21 लाख रुपये का चेक दिया गया था। इस तीन साल की परियोजना में इफको एफआरआई को 93 लाख रुपये का भुगतान करेगी।

सोशल मीडिया पर जानकारी साझा करते हुए उन्होंने लिखा कि “आज #देहरादून में किसान व सहकारी जनयात्रा के दौरान फ़ॉरेस्ट रिसर्च इंस्टीट्यूट में चल रहे #नीम की पौलीप्लाईडिंग की प्रगति देखी”।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here