Leave a reply

जीएससीयू: डिप्टी सीएम ने सहकारिता में महिलाओं की भागीदारी पर दिया जोर



गुजरात स्टेट कॉपरेटिव यूनियन द्वारा आयोजित महिला सहकारी सम्मेलन को संबोधित करते हुए गुजरात के उप-मुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा कि जब पूरा विश्व अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मना रहा है तो हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि महिलाओं के विकास में कोई भेदभाव न हो। गुजरात स्टेट कॉपरेटिव यूनियन के अध्यक्ष गुजरात के दिग्गज सहकारी नेता […]

आगे पढ़े
Leave a reply

यूआरआईसीएम गांधीनगर में केंद्रीय विद्यालयों के शिक्षकों का प्रशिक्षण

एनसीयूआई ने हाल ही में गुजरात के गांधीनगर स्थित उदयभानसिंह रीजनल इंस्टीट्यूट ऑफ कोऑपरेटिव मैनेजमेंट के साथ मिलकर सहकारी आंदोलन को मजबूत बनाने के उद्देश्य से एक ट्रेनिंग प्रोग्राम का आयोजन किया था। इस कार्यक्रम में अहमदाबाद के केंद्रीय विद्यालय के 50 से अधिक शिक्षकों ने भाग लिया। कार्यक्रम के पहले दिन, शिक्षकों को सहकारिता के सिद्धांतो, मूल्यों, सहकारिता कैसे […]

आगे पढ़े

जीसीएमएमएफ का कारोबार 23,000 करोड़ रुपये के पार

गुजरात कोऑपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन (जीसीएमएमएफ) ने वित्त वर्ष 2015-16 के दौरान 23,000 करोड़ रुपये से अधिक का कारोबार किया है। जीसीएमएमएफ के प्रबंध निदेशक आर.एस.सोढ़ी ने बताया कि दुग्ध सहकारी का 2017-18 वित्त वर्ष के दौरान करीब 30 हजार करोड़ रुपये का कारोबार होने की उम्मीद है। भारतीय सहकारिता से बातचीत में आर.एस.सोढ़ी ने […]

आगे पढ़े

जी एस सी बी ने आपनी नई शाखा खोली

गुजरात राज्य सहकारी बैंक ने 3 नवंबर 2014 को गुजरात के गांधीनगर में अपनी नई शाखा का उद्घाटन किया है। बैंक की नई शाखा खुलने की खुशी में गांधीनगर के सरदार सहकारी खंड भवन, प्लॉट नं 274, सेक्टर-16 मे एक भव्य समारोह का आयोजिन भी हुआ था। इससे पहले, भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह ने […]

आगे पढ़े

गुजरात सहकारी महासम्मेलन का उद्घाटन नरेन्द्र मोदी ने किया

गुजरात सहकारी महासम्मेलन का उद्घाटन गुजरात के मुख्यमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने किया। गुजरात के मुख्यमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने अपने उद्बोधन में कहा कि सहकारी क्षेत्र को सतत शुद्धीकरण की आवश्यकता है। लोगों के भरोसे को बनाए रखने के लिए सहकारी क्षेत्र को दागरहित रखना होगा, श्री मोदी ने कहा। भारतीय सहकारिता से बात […]

आगे पढ़े

जीसीएमएमएफ के भट गांव संयंत्र ने इतिहास बनाया

जीसीएमएमएफ ने अपनी ख्याति में एक और खूबी को जोड़ लिया है। यह दुनिया में एक प्रमुख दूध फिल्म निर्माता बन गया है। गांधीनगर में इसका भट्ट गांव संयंत्र एक साल में 17 हजार मीट्रिक टन उत्पादन करता है करीब 80 करोड़ रुपये इस इकाई की क्षमता विस्तार पर खर्च किया गया है। इससे पहले […]

आगे पढ़े

Facebook

Twitter