ताजा खबरेंविशेष

सहकारिता क्षेत्र की ओर से मेहता ने वित्त मंत्री को दिया धन्यवाद

नई दिल्ली स्थित नेशनल फेडरेशन ऑफ अर्बन कोऑपरेटिव बैंक और क्रेडिट सोसाइटीज़ लिमिटेड के अध्यक्ष और सहकार भारती के संरक्षक ज्योतिन्द्र मेहता ने सहकारिता क्षेत्र की लंबे समय से लंबित मांगों को पूरा करने के लिए केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के प्रति आभार व्यक्त किया।

मेहता ने वित्त मंत्री को सहकारी क्षेत्र की ओर से धन्यवाद दिया। उनके अनुसार, यह बजट हाल के दिनों में अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए केंद सरकार की इच्छा को इंगित करता है।

कृषकों की आय दोगुनी करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है, नेफकॉब की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक।

किसान अर्थव्यवस्था का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। यदि उसकी आय में वृद्धि होती है, तभी अर्थव्यवस्था में तेजी देखी जा सकती है। इस सिद्धांत को ध्यान में रखते हुए, वित्त मंत्री ने किसानों के उत्थान के लिए कई घोषणाएं की है, जिसमें किसान रेलवे, किसान उड़ान, जैविक कृषि उत्पाद की बिक्री के लिए ऑनलाइन मंच बनाना, धान्यलक्ष्मी योजना, स्वयं सहायता समूह, बागवानी उत्पाद पद्धति, आदि शामिल हैं। ये कदम उनकी आय को दोगुना करने में और अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने में कारगर साबित होंगे – मेहता ने रेखांकित किया।

वित्त मंत्री ने विनिर्माण क्षेत्र, एसएमई सेगमेंट, प्रौद्योगिकी और शिक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने के लिए प्रयास किया है”, मेहता ने कहा

कर की दरों को कम करने के लिए सहकारी क्षेत्र लंबे समय से मांग कर रहा था। मेहता ने कहा कि कर की दरों को 33% से 22% तक घटाकर हमारी मांगों को पूरा किया गया है। सहकारी क्षेत्र के लिए पूंजी जुटाने की योजना को भी मंजूरी दी गयी है। जमा बीमा सीमा को 1 लाख से बढ़ाकर 5 लाख करना देश भर के जमाकर्ताओं के लिए एक बड़ी राहत होगी। मेहता ने कहा कि इस विकास से सहकारी क्षेत्र काफी खुश है।

पूरी दुनिया में चाहे विकसित राष्ट्र, अविकसित राष्ट्र या विकासशील राष्ट्र हों, सबसे कम कॉरपोरेट इनकम टैक्स की दर से कर संरचना को आसान बनाया गया है”, मेहता ने कहा।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close