सहकार भारती: मंत्री का अधिनियम में संशोधन का वादा

सहकार भारती के समारोह का उद्घाटन करते हुए गुजरात के सहकारिता मंत्री ईश्वरभाई पटेल ने सहकारी अधिनियम में संशोधन का वादा किया है।

सहकार भारती की गुजरात इकाई ने “सहकारी गौरव सम्मेलन” का राज्य के त्रिदेव मंदिर सभागार में संस्था के संस्थापक लक्ष्मणराव इनामदार के शताब्दी समारोह का आयोजन किया था। राज्य सहकारिता मंत्री ईश्वरभाई पटेल को मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया था।

सोशल मीडिया पर कार्यक्रम का ब्यौरा साझा करते हुए, सहकार भारती के अध्यक्ष ज्योतिंद्र मेहता ने लिखा “गुजरात प्रदेश में सहकार भारती का सहकार गौरव समारोह”।

सहकार भारती के अध्यक्ष ज्योतिंद्रभाई मेहता ने भी सभा को संबोधित किया और 800 से अधिक सहकारी समितियों के प्रतिनिधियों का स्वागत किया और कहा कि सहकारी अधिनियम में संशोधन करने की जरूरत है।

गुजरात के सहकारिता मंत्री ईश्वरभाई पटेल ने सहकार भारती टीम को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि “मैंने ज्योंतिद्रभाई मेहता के सहकारी अधिनियम में संशोधन के मुद्दे पर अनुरोध को ध्यानपूर्वक सुना है और सरकार निश्चित रूप में इस मामले पर विचार करेगी।

मराठे ने कहा कि “हमने 19 राज्यों में 100 से अधिक कार्यक्रम का आयोजन किया है और शहरी सहकारी बैंक और क्रेडिट सहकारी समितियों के प्रतिनिधियों से आग्रह किया कि वे अपने गतिविधियों में प्रौद्योगिकी को अपनाए, उन्होंने फोन पर इस संवाददाता को बताया।

उन्होंने यह भी कहा कि अगर सहकारी आंदोलन को मजबूत बनाना है तो हमें सहकारी समितियों के सदस्यों को शिक्षित करने की जरूरत है।

इस सम्मेलन में 4000 से अधिक सहकारी नेताओं ने भाग लिया।

इस अवसर पर गुजरात राज्य सहकारी बैंक लिमिटेड के अध्यक्ष अजय शाह को भी सम्मानित किया गया।

पाठकों को याद होगा कि सहकार भारती अपने संस्थापक स्वर्गीय लक्ष्मणराव इनामदार का शताब्दी वर्ष मना रहा है।

Share This:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook

Twitter